Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr : नजर उतारने का शाबर मंत्र जिसके जरिए आप रहीये सुरक्षित

नजर दोष के लक्षण और उपाय : नजर क्या होता हे –

नजर दोष होना एक बड़ी समस्या हे | इस समय मे हर कोई अपने काम मे बीजी रहता हे | नजर होता क्या हे ये हर कोई नहीं पहचान पता हे | Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr इस ब्लॉग मे बताया जाएगा |

2024 मे महंगाई अपनी चरम सीमा पे हे | इस महंगाई मे सब अपने काम मे बिजी हे | तो सबको नहीं पता चलता की नजर दोष होता क्या हे | और कई लोग इस चीज को नहीं मानते सबको लगता हे की हमारे ही कर्म खराब हे जिस वजह से ये दुख हो रहा हे | नहीं हमारे कर्म के साथ साथ कभी कभी दूसरों के भी कर्म खराब हो जाते हे जिस वजह से आपको भी उनके कर्मों तो फल हमे झेलना पड़ते हे |

मतलब आपको परोसी ही ऐसे मिले हे जिनके कर्मों की सजा आपको भी मिलने लगते हे |  अब जान लेते हे की Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr से पहले नजर दोष के लक्षण क्या हे ये जान हे |

नजर लगने मे आपके पूरे बदन मे दर्द रहेगा | आपका पूरा शरीर टूटेगा दर्द के मारे | हल्का हल्का बुखार भी रह सकता हे | दवाई खाने पे भी आपको कोई ज्यादा फर्क नहीं पड़ेगा आपका दर्द बना रह सकता हे |

नजर लगने मे आपका शरीर सुस्त रह सकता हे | चेहरा मुरझा स जाएगा आपके चहरे की चमक भी कम हो जाएगी | आपका शरीर मे शूई सी चुबन हो सकती हे |

नजर लगने से आपके आँख के ऊपर के बाल खरे रहेंगे मतलब आप जब किसी भी इंसान को नजर लगी होगी तो आँख के ऊपर के eyebrow ( भोंहे ) के बाल जो बैठे हुए  वो खड़े रहते हे | तो मतलब आपको नजर लगी हे |

नजर लगने पे आपके पेट पे अचानक दर्द होना चालू हो जाता हे | आपके पेट पे मरोड़ सी होने लगती हे | आपको पलटी दस्त भी लग सकते हे | लेकिन इसका मतलब ये नहीं की नजर उतार कर दवाई मत खाओ | दवाई अपनी अलग जगह और ये उपाय अलग जगह | अगर आपको दवाई खाकर भी आराम न मिले तो ये उपाय कर लेना चाहिए |

नजर लगने की वजह से आपका कोई भी काम करने का मन नहीं करेगा | आपका मन उदास रहना चालू हो जाएगा | आपको मानसिक अशान्ति भी रह सकती हे |

Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr
Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr

Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr : नजर उतारने का शाबर मंत्र —-

ॐ नमो नजर जहाँ पद पीर न जानो।
बोले छल सों अमृत बानी।
कहो नजर कहाँ ते आई।
यहाँ की ठौर तोहि कौन बताई।
कौन जात तेरी , कहाँ ठाम।
किसकी बेटी क्या तेरो नाम।
कहाँ से उड़ी , कहाँ की जाया।
अब ही बस कर ले तेरी माया।
मेरी जात सुनो चितलाय।
जैसी होय सुनाऊँ आय।
तेलन ,तमोलन, चुहड़ी , चमारी।
कायथनी, खतरानी , कुम्हारी।
महतरानी, राजा की रानी।
जाको दोष ताहि सिर पड़े।
जाहर पीर नजर ते रक्षा करे।
मेरी भक्ति, गुरु की शक्ति।
फुरे मंत्र ईश्वरो वाचा।।

नजर उतारने का झाड़ा : नजर उतारने का तरीका —-

नजर उतारने के आपको कुछ तरीके का इस्तेमाल करना पड़ेगा | आपको जिस इंसान के ऊपर नजर लगी हे उसके ऊपर से Nazar Utarne Ka Jhada उतारना पड़ता हे | Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr को आपको 3 बार , 7 बार या 11 बार पढ़िये और उस व्यति के ऊपर से झाड़ा लगाना पड़ता हे |

सिर पर चोटी रखने के फायदा क्या हे

आपको शाबर मंत्र को हो सके तो मंगवार और रविवार को मुख्यत : अपनाना हे | आपको Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr का इस्तेमाल इन्ही दिन करना हे | आपको इन दिन सुबह बासी मुख ये उपाय करना हे मतलब बिना ब्रश कीये आपको इस शाबर मंत्र का इस्तेमाल करना हे | और उसके बाद शाम को भी Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr का इस्तेमाल उस रोगी के उप्पर करना हे |

अब दुबारा  आपको बता दे की करना क्या हे | आपको मंगलवार और रविवार के दिन एक मोर पंख ले लेना हे | अब इस शाबर मंत्र को 11 बार पढ़ना हे | जब भी आप एक मंत्र पढ़ो तब उस रोगी के ऊपर से उस मोर पंख को फेरना हे  और फूँक भी मारना हे उस व्यक्ति के ऊपर | ऐसा आपको 11 बार करना हे | एक तो सुबह करना हे जब आप बासी मुह हो | और दूसरा आपको शांम को दिन डूबते समय करना हे |

आपको दवाये खाते रहना हे | आप दवाइया नहीं छोड़नी हे | उसके साथ साथ शाबर मंत्र का उपाय कर सकते हे |

1 thought on “Najar Utaarane Ka Shaabar Mantr : नजर उतारने का शाबर मंत्र जिसके जरिए आप रहीये सुरक्षित”

Leave a comment